उजाला योजना

 

 

 

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का उद्देश्य, कम मूल्य पर एलईडी बल्ब मुहैया कराना है. ताकि बिजली की बचत की जा सके. इस योजना की शुरुवात 01 मई 2015 को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा की गई. छत्तीसगढ़ में इस योजना की शुरुवात 13 मार्च 2016 को हुई. इस योजना के तहत एक उपभोगता, 9W के 10 एल.ई.डी बल्ब खरीब सकता है जिसमे एक बल्ब की कीमत 85 रुपये होती है जो की बाज़ार में 300-350 मिलता है। बी.पी.एल कार्ड धारकों को इस योजना के तहत 3 एल.ई.डी बल्ब मुफ्त में मिलेंगे उसके बाद प्रति बल्ब की कीमत 65 रूपए रह खा गया है. इस योजना के तहत 3 साल के अन्दर बल्ब ख़राब होने पर, नया बल्ब भी दिया जाता है.

उजाला योजना का लाभ कैसे लें और आवेदन कैसे करें?

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके घर में घरेलू मीटर होने चाहिए. इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए निम्नलिखित में से किसी एक दस्तावेज़ की आवश्यकता होती है –

– आधार कार्ड

– मतदाता पहचान पत्र

– पासपोर्ट

– पते की जानकारी के लिए आप बिजली बिल या फोन बिल bhiदे सकते हैं।

लाभार्थियों की संख्या

– उजाला योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ में अब तक 19 लाख से ज्यादा एलईडी बल्ब बांटे जा चुके हैं

 

Share This